VIDEO: समस्तीपुर में कर्ज में डूब गई एक ही परिवार की 5 जिंदगियां!, फंदे से लटका मिला शव

समस्तीपुर में एक ही परिवार के 5 लोगों की लाश घर के अंदर मिली है। सभी के शव के छत से लटके मिले। मौत के कारणों का अभी खुलासा नहीं हुआ है। कुछ लोग इसे खुदकुशी बता रहे तो कुछ हत्या का शक जता रहे हैं। मामला समस्तीपुर जिला के विद्यापतिनगर प्रखंड के मऊ धनेशपुर दक्षिण पंचायत के वार्ड 4 की है।

घटना की जानकारी मृतक के बेटी व दामाद ने गांव वालों को दी। पुलिस को बुलाया गया। स्थानीय लोग परिवार के कर्ज में डूबे होने की बात भी कर रहे हैं। फिलहाल पुलिस हर एंगल से मामले की जांच कर रही है। हृदय विदारक घटना की जानकारी मिलते ही ग्रामीण मृतक के घर जुटने लगे। इधर खबर मिलते ही डीएसपी दिनेश कुमार पांडेय ने घटना स्थल पहुंचकर मामले की छानबीन की। सभी पांचों शव एक कमरे में फंदे से लटका हुआ पाया गया।

मृतकों में परिवार के मुखिया मनोज झा( 42 वर्ष) मनोज झा की 65 वर्षीया मां सीता देवी, पत्नी सुन्दरमणी देवी (38 वर्ष), पुत्र सत्यम (10 वर्ष) एवं शिवम (7 वर्ष) का है। फंदे से लटके शव को देखने से ऐसा प्रतीत होता है कि सभी को बारी-बारी से फंदे से लटकाया गया है।घटना को लेकर डीएसपी ने परिवार के सदस्यों के मोबाइल कॉल डिटेल को खंगाला।

जिसमें मृतका सीता देवी के मोबाइल से मनोज झा के शादी शुदा दोनों पुत्री को कॉल किये जाने की बात सामने आई। जहां कॉल रिसीव नही हो पाया। पुलिस की मानें तो कॉल रिसीव होने से घटना को रोका जा सकता था। मृतक मनोज झा की बड़ी पुत्री काजल इस घटना को हत्या करार दे रही हैं। उनके अनुसार कर्ज में डूबे पिता को कर्ज चुकाने का दबाब पड़ रहा था।

पड़ोसियों की मानें तो इसके पहले भी मनोज झा के पिता ने भी फांसी लगाकर अपनी जान दे दी थी। बताया जाता है कि उन्होंने अपनी बड़ी पुत्री की शादी के लिए कर्ज लिए थे। कर्ज चुका नहीं पाने की स्थिति में उन्होंने अपनी जान दे दी थी। अभी उनके पुत्र ने भी अपनी बहन की शादी मंदिर में की थी।