डॉ सुरेंद्र प्रसाद सिंह की पुस्तक “समृद्धि की ओर बिहार” का सिक्किम के राज्यपाल ने किया लोकार्पण

अखंड भारत मानव सेवा महासंघ की ओर से शनिवार को बिहार हिन्दी साहित्य सम्मेलन सभागार में सम्मान समारोह और पुस्तक लोकार्पण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन सिक्किम के राज्यपाल गंगा प्रसाद, मगध विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति नंद जी कुमार ने किया।

इस मौके पर अतिथियों ने समृद्धि की ओर बिहार पुस्तक का विमोचन किया। गंगा प्रसाद जी ने डॉ सुरेंद्र प्रसाद सिंह लिखित पुस्तक समृद्धि की ओर बिहार के लिए उन्हें बधाई दी। उन्होंने कहा कि बिहार को फिर से राष्ट्र निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभानी होगी। देशहित में बिहार का योगदान हमेशा रहा है। गंगा प्रसाद ने महासंघ के पदाधिकारियों को मोमेंटो देकर सम्मानित किया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष रिटायर्ड आईपीएस दयानंद कुमार ने किया। जबकि मंच का संचालन विजय कुशवाहा, सह संचालन मनोज कुमार, ई पूर्णानंद, कमलेश राय ने किया। जबकि सबके प्रति धन्यवाद ज्ञापन राष्ट्रीय संरक्षक डॉ सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने किया। वहीं स्वागत गान विमल कुमार भारती ने गाया। समारोह को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय संरक्षक डॉ गंगेश गुंजन ने कहा कि आज अखंड भारत मानव सेवा महासंघ के बैनर तले डॉ सिंह की लिखित पुस्तक में बहुत ही सार गर्भित बातों का ​जिक्र है। विकास में समस्या के साथ-साथ समाधान को विस्तृत रूप से बताया गया है।

आशा है आने वाले दिनों में प्रदेश के साथ-साथ देश के विकास में यह महासंघ निर्णायक भूमिका निभाएगा। वहीं डॉ सुरेंद्र प्रसाद ने कहा कि अखंड भारत मानव सेवा महासंघ की परिकल्पना वर्षों से मन में थी, जो आज साकार हुआ। मेरी पुस्तक समृद्धि की ओर बिहार में बिहार एवं भारत के विकास एवं निर्माण के लिए सुझाये गए रारूते पर लोगों के सहयोग से चलना है। प्राचीन भारत के स्वर्णिम इतिहास को फिर से स्थापित करने में जन-जन के सहयोग की आवश्यकता है।

कार्यक्रम में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनोज कुमार, मोहन यादव, विमल कुमार भारती, राष्ट्रीय सचिव कमलेश राय, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष एमपी वर्मा, राकेश कुमार वर्मा, संस्था के बिहार प्रदेश अध्यक्ष मो. शहाब मल्लिक, प्रदेश सचिव रवि रौशन श्रीवास्तव, उपसचिव मनोरंजन कुमार, बिहार प्रदेश कोषाध्यक्ष ई.पूर्णानंद, लवधेश मेहता एवं सक्रिय सदस्यों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।