तेजस्वी बोले-मेरी तो शादी ही अलग धर्म की लड़की से हुई है, शाहनवाज साहब से पूछ लीजिए

मंदिर-मस्जिद में लाउडस्‍पीकर हटाने को लेकर देश में इन दिनों बवाल मचा हुआ है। उत्‍तर प्रदेश से उठा यह विवाद अब बिहार भी पहुंच गया है। बीजेपी नेताओं ने बिहार में भी मस्जिदों से लाउडस्‍पीकर हटाने की मांग की है। मंत्री जनक राम ने कहा है कि कानून से बड़ा धर्म नहीं है।

इस मामले पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का भी बयान सामने आया है। तेजस्वी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए अपने बयान में कहा कि कलम ना उठाए डंडा उठा ले क्या। उन्होंने कहा कि बिहार में ऐसा कोई मामला नहीं आया है। तेजस्वी ने आगे कहा कि बीजेपी धर्म के नाम पर बांटने का काम करती है। बीजेपी का कानून नागपुर से चलता है। उन्होंने कहा कि मैं टीका लगाऊ, टोपी या पगड़ी पहनू, किसी को क्या फर्क पड़ता है। मेरी तो शादी ही अलग धर्म की लड़की से हुई है। हमलोग सभी धर्मों का सम्मान करते हैं।

साथ ही तेजस्वी ने यह भी कहा कि इस मामले पर शाहनवाज साहब से पूछ लीजिए वह क्या कहते हैं। बता दें कि यूपी में कोर्ट के ऑर्डर के बाद लाउड स्‍पीकर हटाया जा रहा है। इधर, मंदिर और मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने को लेकर मंत्री जनक राम ने कहा है कि कानून से बड़ा धर्म नहीं है। अगर बिहार में ये कानून आया तो यहां से भी हटेगा। हालांकि भाजपा नेताओं की मांग पर जेडीयू ने ऐतराज जताया है।