श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब में बवाल, अफरा-तफरी का माहौल, पहुंची पुलिस

तख्त श्री हरमंदिर जी पटना साहिब तख्त के विशेष दीवान में अफरा-तफरी का माहौल हो गया। बाद में गुरुद्वारा में तैनात सुरक्षाकर्मियों और चौक पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आक्रोशित लोगों को शांत करवाया। मिल रही जानकारी के अनुसार जत्थेदार और पंच प्यारों की उपस्थिति में पुराने पीढ़ा (आसन) की जगह पर सोने और चांदी से बने नए पीढ़े लगाए जा रहे थे।

इसे लेकर सिख संगतों और सेवादारों ने इसका विरोध किया देखते देखते माहौल आक्रोशित हो उठा। बता दें कि पंजाब के जालंधर के करतारपुर निवासी सिख श्रद्धालु डॉ. गुरविंदर सिंह सरना ने तख्त श्री हरमंदिर जी साहिब गुरु महाराज को पांच किलो सोना और चार किलो चांदी से बनी छोटी पलंग भेंट किये है। इसे ही पुराने आसन की जगह पर लगाया जा रहा था।

जिसपर स्थानीय सिख संगतों और सेवादारों के इसको लगाने का विरोध किया। स्थानीय सिख संगतों और सेवादारों ने जत्थेदार और गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी पर पुरातन परंपरा से छेड़छाड़ किए जाने का आरोप लगाया। उनका साफ कहना है कि हर हाल में पुरातन परंपरा कायम रखी जाए। सेवादार समाज कल्याण समिति के अध्यक्ष बलराम सिंह ने जत्थेदार ज्ञानी रंजीत सिंह गौहर ए मसकीन पर गुरु मर्यादा का उल्लंघन करने और मनमानी का आरोप लगाया है।

वहीं, तख्त श्री हरमंदिर प्रबंधक कमेटी के महासचिव इंद्रजीत सिंह ने कुछ लोगों पर झूठी अफवाह उड़ा कर विरोध-प्रदर्शन किए जाने की बात कही। महासचिव ने बताया कि गुरु महाराज के पुराने पीढ़े के पांव टूट गए थे उसकी जगह पर डॉक्टर गुरविंदर सिंह सरना के द्वारा भेंट की गई सोने और चांदी से बने पीढ़े को लगाया जा रहा था। इसे नए पीढ़े को पुराने पीढ़े के बगल में स्थापित किया जा रहा था।