पटना विश्वविद्यालय: स्नातक पार्ट वन के रिजल्ट में गड़बड़ी को लेकर छात्रों का उग्र प्रदर्शन

पटना विश्वविद्यालय के स्नातक प्रथम वर्ष के रिजल्ट में कई छात्र-छात्राओं को असफल कर दिया गया है। जारी रिजलट में कई तरह की गड़बड़ी की गई है। इसी के विरोध में शुक्रवार को छात्र-छात्राएं पटना विवि मुख्यालय पहुंच गए और कुलपति के कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन करने लगे। छात्र-छात्राओं ने बताया कि साइंस एवं कॉमर्स के परीक्षाफल में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी है। पिछले दिनों की इसकी लिखित शिकायत भी की गई थी।

छात्रों ने पटना विश्वविद्यालय मुख्य द्वार में तालाबंदी कर दी। छात्रों को प्रदर्शन को रोकने के लिए विश्वविद्यालय के डीन को बीच बचाव में आना पड़ा। उग्र प्रदर्शन के बाद परीक्षा नियंत्रक डॉ आरके मंडल से छात्रों का प्रतिनिधि छात्र संघ अध्यक्ष मनीष यादव के नेतृत्व में मिला। प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे छात्र नेता शान्तनु यादव ने कहा कि विश्वविद्यालय छात्रों के भविष्य को बर्बाद करने में लगी हुई है। इसे हम बर्दाश्त नही करेंगे ।

हंगामा बढ़ने लगा तो प्रतिकुलपति प्रो. डॉली सिन्हा ने सभी छात्र-छात्राओं को बुलाया और उनकी समस्या जानी। इनकी मुख्य समस्या यह है कि इनमें कई विद्यार्थी अबतक स्नातक तृतीय वर्ष के विद्यार्थी हो जाते लेकिन उनके पार्ट वन के रिजल्ट में गड़बड़ी हुई है। इससे विद्यार्थी थर्ड पार्ट में प्रमोट नहीं हो पा रहे हैं।

तब प्रतिकुलपति ने विद्यार्थियों को बताया कि विद्यार्थियों के आवेदन को मॉडरेशन बोर्ड के पास भेज दिया गया है। 16 अगस्त तक इस मामले में निर्णय होगा। इस दौरान सुशील कुमार, अक्षय कुमार, भाग्य भारती, समृद्धि सुमन, ज्योति कुमारी, नीरज कुमार, शालिनी कुमारी मौजूद रहे।