होम्योपैथी के प्रसिद्ध डॉक्टर बी. भट्टाचार्य का निधन, सीएम नीतीश ने जताया शोक

होम्योपैथ के बहुप्रसिद्ध डॉक्टर बी भट्टाचार्य का निधन भट्टाचार्य रोड स्थित उनके पटना आवास पर रविवार की अहले सुबह हो गया। वे 99 साल के थे। उन्हें हार्ट की बीमारी थी। इसके बावजूद जीवन के अंतिम समय तक वे मरीजों का इलाज करते रहे। डॉ बी भट्टाचार्य के बारे में उनके शिष्य डॉ एसए रजा ने बताया कि डॉक्टर भट्टाचार्य ने अपनी पूरी जिंदगी समाज के नाम कर दी थी।

होम्योपैथ कि उनको गहरी जानकारी थी। डॉ भट्टाचार्य असाध्य सहित गम्भीर बीमारियों के इलाज के लिए विख्यात थे। होम्योपैथ की दवाइयों पर उन्होंने कई सफल प्रयोग किए। यही वजह रही है की उनसे देशभर से कई मरीज दिखाने पटना आते थे। पटना में 1950 के दशक में राजापुर पुल के पास बिना फीस के उन्होंने अपने चिकित्सीय सेवा की शुरुआत की थी।

डॉक्टर बी भट्टाचार्य के निधन पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है और इसे चिकित्सा जगत के लिए अपूरणीय क्षति कहा है। सीएम ने दुख की इस घड़ी में डॉ. भट्टाचार्य के परिजनों को धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।