राज्यपाल से शिक्षा मंत्री ने लगाई गुहार, विश्वविद्यालयों के शैक्षणिक स्तर को सुधारने कि अपील की

शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने शुक्रवार को कुलाधिपति फागू चौहान से मिल कर उन्हें बिहार के विभिन्न विश्वविद्यालयों के शैक्षणिक सत्र के विलंब से चलने की स्थिति के बारे में जानकारी दी और राज्यपाल को इससे जुड़ा पत्र भी सौंपा। पत्र में शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कहा है कि बिहार के विभिन्न विश्वविद्यालयों के शैक्षिक सत्रों के विलंब से चलने से आप अवगत हैं।

पिछले दिनों कोरोना महामारी के कारण विश्वविद्यालय लगातार बंद रहने से कठिनाई पैदा हुई है, लेकिन अब स्थिति सामान्य हो गई है और विशेष जोर देकर विश्वविद्यालयों में सत्र कक्षाएं और परीक्षाएं सभी के नियमित और समय से संचालन की जरूरत है। उन्होंने कहा है कि 9-9- 2021 को आपकी अध्यक्षता में कुलपतियों की बैठक में भी सरकार की इस चिंता की चर्चा मैंने की थी और परीक्षाएं नियमित करने के लिए विशेष पहल करने की बात उठाई थी।

आपने भी कुलपतियों को इस संबंध में आवश्यक निर्देश दिए थे, लेकिन अभी तक अपेक्षित सुधार की जरूरत बनी हुई है। शिक्षा मंत्री ने खासतौर से मगध विश्वविद्यालय बोधगया और जयप्रकाश विश्वविद्यालय छपरा की स्थिति पर अपनी चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि मगध विश्वविद्यालय में नियमित पदाधिकारियों की कमी है। साथ ही जयप्रकाश विश्वविद्यालय छपरा में विभिन्न कारणों से परीक्षाओं का संचालन ठीक से नहीं हो पा रहा है।

सबसे अधिक चिंता की बात है कि इससे बिहार के छात्रों का भविष्य प्रभावित हो रहा है। कई छात्रों ने व्यक्तिगत रूप से मिलकर इस पर चिंता जाहिर की है। कई परीक्षाएं अभी तक नहीं होने से छात्रों का भविष्य अधर में लटका हुआ है। शिक्षा मंत्री ने शीघ्र तिथि निर्धारित कर बैठक आयोजित करने का आग्रह कुलाधिपति से किया है।